schemes2
 

उत्प्रेरक विकास कार्यक्रम - XIIवीं योजना

XIIवीं पंचवर्षीय योजना के दौरान उत्प्रेरक विकास कार्यक्रम
[केन्द्र प्रायोजित योजना]

रेशम उत्पादन एवं रेशम उद्योग ग्रामीण रोज़गार, गरीबी निवारण, आय का पुन:वितरण तथा महिला सशक्तिकरण तथा इस तरह राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था के प्रति महत्वपूर्ण योगदान करते है ।  उत्प्रेरक विकास कार्यक्रम [उविका] देश में रेशम उत्पादन एवं रेशम उद्योग के समग्र विकास को बनाए रखने के लिए केन्द्रीय रेशम बोर्ड [केरेबो], वस्त्र मंत्रालय की एक महत्वपूर्ण योजना है और यह पंच वर्षीय योजनाओं के माध्यम से क्षेत्र स्तर में केरेबो के अनुसंधान संस्थान द्वारा विकसित उन्न्त प्रौद्योगिकी पैकेज के प्रभावी हस्तांतरण एवं उसे अपनाने का महत्वपूर्ण साधन है । 

उत्प्रेरक विकास कार्यक्रम नौवीं योजना अवधि से आवधिक मूल्यांकन, संशोधन एवं अतिरिक्त निवेश /  घटकों के साथ राज्य सरकार के सहयोग से कार्यान्वयनाधीन है । योजना में देश के सभी चार रेशम उपजातियों अर्थात् शहतूत, तसर, एरी एवं मूगा के उन्नयन के लिए विभिन्न घटक एवं उप-घटक शामिल है ।  XIIवीं योजना के दौरान क्षेत्रगत आवश्यकताओं को पूरा करने तथा क्षेत्र के विकास में लाभप्रद गति सुनिश्चित करने के लिए उविका को पुन: संरचित किया गया है ।  जबकि उविका के कुछ विद्यमान घटकों का कुछ अतिरिक्त निवेश/उप-घटकों को शामिल करते हुए विस्तार/संशोधित किया गया है, आंचलिक आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए कुछ नए हस्तक्षेप भी प्रस्तावित किए  गए है । 

मूल रूप में उविका में 3 प्रमुख क्षेत्र नामत: [] शहतूत क्षेत्र, [] वन्य क्षेत्र तथा [] कोसोत्तर क्षेत्र शामिल है ।  ये 3 प्रमुख क्षेत्र सहायता सेवा घटकों से समर्थित है । अधिकतम घटक लाभार्थियों के लिए है, जबकि कुछ राज्य स्तर में अवसंचना विकास के लिए राज्य सरकार के लिए है । यह योजना 1,852.36 करोड़ ` की कुल परियोजना लागत में कार्यान्वयन हेतु अनुमोदित है, जिसमें 889.00 करोड ` भारत सरकार का हिस्सा है, 426.87 करोड़ ` राज्य सरकार का हिस्सा है और शेष 536.49 करोड़ ` लाभार्थी हिस्सा है । 

यहाँ उविका मैनुअल के दो भाग अपलोड किए गए हैं । उविका के मैनुअल [ पुस्तक-1] में  योजनाओं संबंधी विस्तृत सूचना, तकनीकी विनिर्देशन, प्रचालन मार्गदर्शन, अंचल-वार लक्ष्य, मापदण्ड एवं वित्तीय अनुमान आदि संबंधी विवरण हैं, जबकि उविका इकाई लागत पुस्तक [पुस्तक-2] में प्रत्येक घटक के लिए विशद अंचल-वार इकाई लागत शामिल है ।  उविका के अंतर्गत योजना/घटकों के समग्र ज्ञान के लिए दोनों किताबों का एक साथ अध्ययन किया जाता है । ये किताबें सी डी में भी उपलब्ध हैं ।

उविका के अंतर्गत घटकों संबंधी संक्षिप्त लेख के लिए  यहाँ क्‍लिक  करें ।

उविका मैनुअल के पीडीएफ रूपांतरण के लिए निम्न लिंक पर क्‍लिक  करें ।

उविका का मैनुअल [किताब-1] [अध्याय-वार]

उविका इकाई लागत किताब [किताब-2] [अध्याय-वार]

योजना किस प्रकार चलाया जाता है संबंधी आगामी मार्गदर्शन तथा लाभ उपलब्ध करने के लिए कृपया अपने राज्‍य के रेशम उत्पादन विभाग से संपर्क करें ।

 

For further guidance on various schemes and to avail the benefits, please contact the Department of Sericulture in your State.  
click here for DOS contact details

"XIIवीं योजना उविका के अंतर्गत कोसोत्तर घटक के लिए आवेदन प्रपत्र"

कोसोत्तर क्षेत्र के उविका आवेदन प्रपत्र के लिए यहां क्‍लिक  करें ।

स्वचालित धागाकरण इकाई आवेदन प्रपत्र के लिए यहाँ क्‍लिक  करें ।

उविका XIIवीं योजना के अंतर्गत संविदा दर पर विनिर्माता/आपूर्तिकर्ता के नामिकायन (एम्पानेलमेन्ट) के लिए यहां क्‍लिक करें ।

उविका योजनाओं के अंतर्गत चयनित लाभार्थियों की सूची के लिए यहां क्‍लिक करें । 

click for   वर्ष 2014-15 के लिए उ. वि. का. योजना के अन्तर्गत चयनित सीएटीडी लाभार्थियों की सूची

click for वर्ष 2014-15 के लिए उविका योजना के अन्तर्गत पीएलएम2 एवं पीएलएम4 करघे के लिए चयनित लाभार्थियों की सूची

click for List of benificiaries selected for ARM / ADRM UNDER XII PLAN for the year 2015-16